खास बातें

  • कहा, इस मामले की मीडिया कवरेज में संयम बरता जाए
  • हम महीनों तक इसे प्राइम टाइम इश्‍यु नहीं बना सकते
  • हमें ध्‍यान वापस मुख्‍य सम‍स्‍याओं पर शिफ्ट करना होगा

नई दिल्ली:

ऐसे समय जब देश बड़ी चुनौतियों को सामना कर रहा है, मशहूर लेखकर चेतन भगत (Chetan Bhagat) ने बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Rajput Case) की मौत के मामले में मीडिया कवरेज (media coverage) पर संयम बरने का आग्रह किया है. देश में कोरोना वायरस की महामारी और इसके बीच इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं के आयोजन को लेकर विवाद इस समय चर्चाओं में है.चेतन भगत ने NDTV से कहा, “सुशांत के लिए पूरे सम्मान के साथ कहना चाहता हूं कि मैं सुशांत को पसंद करता था… मैं अपने करियर के लिए उनका अहसानमंद हूं… ‘काई पो चे’ नहीं बनाई जा रही थी… जो भी हुआ हो, लेकिन ‘3 इडियट्स’ के बाद मेरी कोई मूवी शुरू नहीं हो पा रही थी… ऐसे में सुशांत ने मुझे बचाया था, सो, कृपया कोई भी यह नहीं कह सकता कि मुझे सुशांत की परवाह नहीं करता, लेकिन हमें भारत की भी परवाह करनी है… हम महीनों-महीनों तक इसे (सुशांत केस) प्राइम टाइम इश्‍यू नहीं बना सकते… भगत की 2004 में लिखी पुस्तक ‘फाइव प्वाइंट समवन’ युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय हुई थी. वर्ष 2013 में बनी फिल्‍म ‘काई पो चे’ में सुशांत मुख्य किरदारों में से एक थे.

यह भी पढ़ें

सुशांत सिंह के परिवार के वकील ने रिया चक्रवर्ती के इंटरव्‍यू को लेकर कही यह बात..

चेतन ने कहा, ‘हम जांच के लिए अलग एजेंसी चाहते थे, जो हमें मिल गई है. हमें शीर्ष एजेंसी और शीर्ष लोग (जांच के लिए) मिले हैं. अब हर बार जब लोग इस ‘पजल’ के लिए अलग-अलग क्‍लू चाहते हैं, मुझे नहीं लगता कि इससे कुछ भी हासिल होने वाला है.’ गौरतलब है कि सुशांत को 14 जून को उनके मुंबई स्थित निवास पर मृत पाया गया था. इसके करीब एक माह बाद उनके पिता ने बिहार में केस दर्ज कराकर सुशांत की गर्लफ्रेंड और उसके परिवार पर अपने बेटे को आर्थिक और मानसिक रूप से परेशान करने का आरोप लगाया.

चेतन ने कहा “हर देश के साथ इकोनॉमी की समस्‍या है. हर जिम्मेदार देश इससे बाहर निकलने की कोशिश कर रहा है और हमें अपना ध्यान वापस शिफ्ट करने की जरूरत है. यह केस (सुशांत) बहुत ही मनोरंजक है. इसमें सब कुछ है. कथित हत्या, शायद एक आत्महत्या, शायद फिल्म सितारे, all conspiracy theories और सियासत, लेकिन यह कितना भी दिलचस्प हो, यह कोई कहानी नहीं है. यह वास्तविक जीवन है और आपको सबूत प्राप्त करने हैं. या तो आप सीबीआई को अपना काम करने दें या कहें कि आपको सीबीआई की आवश्यकता नहीं है. आप आज रात टीवी पर खुद ही इस मामले को सुलझा सकते हैं. हम इकोनॉमी की ओर बढ़ें, वैक्सीन, इसे हम कैसे वैक्सीन वितरित करने जा रहे हैं, हम फेस-3 के ट्रायल, एक्‍जाम्‍स को कैसे रोक सकते हैं. चेतन भगत ने हाल ही में एक थ्रिलर ‘वन अरेंज्‍ड मर्डर’ लिखा है.

रिया चक्रवर्ती ने कहा- सुशांत सबसे खूबसूरत इंसान जिससे मैं मिली



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *